5G Trial Whatsapp Viral Message True or Fake Information Adde

5G Trial Whatsapp Viral Message True or Fake Information Added

आज संध्याकाळी 10 वाजल्यापासून 12 तारखेला सकाळी 9 वाजेपर्यंत कृपया विनंती आहे की आपला मोबाईल लहान मुलांकडे देऊ नका व आपणही त्याचा वापर करू नका कारण उद्यापासून 5G इन्स्टॉलेशन म्हणजेच 5G नेटवर्क ची ट्रायल घेणार आहेत त्यामळे मानवी जीवनाला आणि लहान मुलांना याचा धोका आहे म्हणून आपला मोबाईल बंद ठेवाल तेवढं आपल्या कुटुंबासाठी चांगलं आहे*

Government has scotched the rumors that 5G technology is causing the spread of COVID-19. Ministry of Communications said, these messages are utter nonsenses and absolutely incorrect. The Ministry said, the claims linking the 5G technology with the COVID-19 pandemic has no scientific basis. It informed that testing of the 5G network has not yet started anywhere in India and the claim that 5G Trials or networks are causing #coronavirus in India is baseless and untrue.

सरकार ने इन अफवाहों का खंडन किया है कि #कोविड19 संक्रमण #5G टेक्‍नोलॉजी के कारण फैल रहा है। संचार मंत्रालय ने स्‍पष्‍ट किया कि #5जी टेक्‍नोलॉजी और #कोविड महामारी को जोडने का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है तथा 5जी नेटवर्क का परीक्षण अभी भारत में कहीं भी शुरू नहीं हुआ है।

Whatsapp Viral 5G Trial Message:

क्या 5G टेस्टिंग के कारण आई COVID-19 की दूसरी लहर? जानें क्या है इस वायरल पोस्ट की सच्चाई. वायरल पोस्ट में यह भी कहा गया है कि रेडिएशन की वजह से घर में हर जगह करंट लगता रहता है और गला सामान्य से कुछ ज्यादा सूखता है. इन पोस्ट में कहा गया है कि यदि इन 5G टावरों की टेस्टिंग पर रोक लगा दी जाए, तो सब ठीक हो जाएगा. इन संदेशों को शेयर करने वाले कुछ लोगों ने अपने साथ ऐसा होने का दावा भी किया है. 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *